एलर्जी के कारण, लक्षण, प्रकार, उपचार, घरेलू नुस्खे

elarji ke karan

 

अगर आप किसी चीज के प्रति अति संवेदनशील है तो आपको एलर्जी की समस्या हो सकती है जिसे मेडिकल की भाषा में एटोपी कहा जाता है एलर्जी स्त्री या पुरुष दोनों को हो सकते हैं एलर्जी खाने की चीजें, मौसम में बदलाव, पालतू जानवर, धूल, धुएं किसी से भी हो सकती है।

एलर्जी तब होती है जब हमारा इम्यून सिस्टम कुछ चीजों को स्वीकार नहीं करता है इन चीजों के प्रति हमारा इम्यून सिस्टम गलत व्यवहार करता है इसी सिस्टम को एलर्जी कहते हैं लेकिन आपको जानकर खुशी होगी कि ज्यादातर एलर्जी खतरनाक नहीं होती है कभी कभी ही समस्या गंभीर होती है।

एलर्जी को हम रोक सकते हैं लेकिन इसके लिए हम को एलर्जी के कारण पता होने चाहिए ताकि आप उन कारणों से दूर रह सकें एलर्जी नहीं है। फिर भी अगर किसी की नाक बह रही हो और आंखों से पानी आ रहा हो तो आपको सावधानी बरतने की जरूरत है अगर मुमकिन हो सके तो आप उसके द्वारा इस्तेमाल किए गए सामान को ना इस्तेमाल करें।

एलर्जी के प्रकार :-

  • डस्ट एलर्जी
  • लेटेक्स एलर्जी
  • मोल्ड एलर्जी
  • इन्सेक्ट स्टिंग एलर्जी
  • पालतू जानवर से एलर्जी
  • राइनाइटिस एलर्जी
  • स्किन एलर्जी
  • ड्रग एलर्जी
  • आइ एलर्जी

एलर्जी के लक्षण :-

  • आपकी आंखों में खुजली होती है और आंखें लाल हो जाती है।
  • आंखों से पानी बहता रहता है।
  • गर्मियों में तेज बुखार आ जाता है।
  • गले में खुजली होती रहती है।
  • त्वचा पर भी खुजली होती रहती है।
  • त्वचा पर पित्त उठ जाता है।
  • त्वचा पर लाल चकत्ते और दाने हो जाते हैं।
  • हमारे नाक के अंदर बार-बार दाने निकलते रहते हैं।
  • हमारी नाक में बार बार खुजली होती रहती है।
  • पूरे दिन नाक बहता रहता है।

एलर्जी के कारण :-

  • धूल – धूल के कण बहुत ही छोटे होते हैं जो हमारे आसपास मौजूद वस्तुओ  पर जमे रहते हैं यह उच्च आर्द्रता में पनपते हैं जो मृत त्वचा, बैक्टीरिया और फंगस आदि का खानपान करते हैं।
  • खाना – कुछ लोगों को रोज खाने वाले खाने से भी एलर्जी हो सकते हैं जैसे मूंगफली, दूध और अंडा जब भी आप कोई खाद्य पदार्थ का सेवन करते हैं तो आपके शरीर पर खुजली होने लगती है और दाने निकलने शुरू हो जाते हैं।
  • खुशबू – खुशबू आपको अच्छी लगती हो लेकिन कुछ लोगों को इस से एलर्जी होती है जैसे अगर आप खुशबू वाला इत्र का इस्तेमाल करते हैं तो जिस व्यक्ति को एलर्जी होती है उसकी नाक बहने लग जाती है या फिर उसका सर दर्द करने लग जाता है उस व्यक्ति को किसी भी ब्यूटी प्रोडक्ट से एलर्जी हो सकती है।
  • जानवर – कुछ लोगों को तो पालतू जानवरों से भी एलर्जी होती है उन जानवरों के बाल और मुंह से निकलने वाली लार से भी एलर्जी हो जाती है और जानवरों के बालों में रूसी होती है उससे भी एलर्जी हो जाती है।
  • घास – कई बार हमारे आस पास की चीजें जैसे घास, फूल और पेड़-पौधे से भी एलर्जी का कारण बनते हैं इसको मौसमी एलर्जी के नाम से जाना जाता है एलर्जी के कारण आंखों में जलन और लगातार छींक आती रहती है।
Read Also :  गिलोय जूस बनाने की विधि, फायदे - giloy benefits

एलर्जी का उपचार :-

  • अगर आप एलर्जी से दूर रहना चाहते हैं तो आपको धूल, धुंआ और गंदगी से बच कर रहना होगा ।
  • आपको कुछ दवाएं जैसे एस्पिरीन, निमुस्लाइड इन से भी बच कर रहना होगा।
  • खट्टी चीजों से भी आपको दूर रहना चाहिए ऐसे खाद्य पदार्थों से दूर रहना चाहिए जिन से एलर्जी होती है।
  • जिन लोगों को गंदगी से एलर्जी है उन लोगों को अपने घर के बिस्तर, चादर, तकिया इन सब को बदलते रहना चाहिए।

एलर्जी के घरेलू नुस्खे :-

शहद – शहद हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है अगर आप रोज दो चम्मच शहद का इस्तेमाल करते हैं तो आपके शरीर को बहुत लाभ पहुंचेगा आप शहद का प्रयोग गुनगुने पानी य दूध में भी कर सकते हैं।

सेब – अगर आप रोज एक सेब का सेवन करते हैं तो आपकी पाचन शक्ति काफी बेहतर हो जाएगी आप चाहे तो सेब का जूस निकालकर भी पी सकते हैं।

हल्दी – हल्दी, एलर्जी से बचाने में काफी मददगार साबित होती है हेल्दी में बहुत ज्यादा मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो एलर्जी से बचाने में हमारी मदद करते हैं हल्दी को एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी का मिलाकर पी सकते हैं।

Read Also :  चंद्रप्रभा वटी के फायदे - benefits of chandraprabha vati

लहसुन – लहसुन में एंटी बॉयोटिक, एंटीऑक्सीडेंट और पाचन शक्ति को बढ़ाने वाले तत्व भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हमें एलर्जी से बचाने में हमारी मदद करते हैं। आप लहसुन को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं लहसुन को आप खाली पेट एक या दो कली खा सकते हैं या फिर आप सब्जी में मिलाकर भी इसको खा सकते हैं आपको निश्चित रूप से फायदा होगा।

नींबू – नींबू में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो हमारे पाचन शक्ति को कई गुना बढ़ा देते हैं। जिससे आपको एलर्जी से लड़ने में काफी मदद मिलती है आप नींबू का सेवन किसी भी तरीके से कर सकते हैं।

अदरक – अदरक एलर्जी से बचाने में अहम भूमिका निभाता है आपने सुना होगा जब भी किसी व्यक्ति को अस्थमा या स्वास्थ संबंधी समस्या होती है तो हम उसको अदरक का सेवन करवाते हैं। क्योंकि अदरक में बहुत सारे तत्व मौजूद होते हैं अदरक एलर्जी को भी दूर करता है साथ ही यह अस्थमा और श्वास संबंधी समस्याओं को भी दूर करता है।

ग्रीन टी – यह तो आप सभी को पता होगा कि ग्रीन टी में बहुत सारे एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं यह हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है। ग्रीन टी में एक विशेष तत्व मौजूद होता है जिसका नाम है थियानीन यह हमें एलर्जी से बचाने में अहम भूमिका निभाता है अगर आपको ग्रीन टी पसंद नहीं है तो आप ब्लैक टी का भी सेवन कर सकते हैं।

बादाम – बादाम के अंदर विटामिन बी मैग्नीशियम जिंक सेलेनियम तथा अन्य बहुत सारे स्वास्थ्यवर्धक गुण मौजूद होते हैं जो हमे एलर्जी से तो बचाते ही हैं साथ ही हमारे शरीर को और भी कई अन्य फायदे पहुंचाते हैं। बादाम को आप भून कर या कच्चा भी खा सकते हैं अगर आपको दूध पसंद है तो आप बादाम को पीसकर दूध में उसका पेस्ट मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं।

Leave a Reply