गिलोय जूस बनाने की विधि, फायदे – giloy benefits

giloy benefits
giloy benefits

 

गिलोय का पौधा बेल की तरह दिखता है यह ज्यादातर पहाड़ी  इलाकों में पाया जाता हैं। यह पौधा दूसरे पौधों के गुण अपनी और खींच लेता हैं। कई साल पहले से किस पौधे का इस्तेमाल आयुर्वेद के रूप में किया जाता रहा हैं। गिलोय में ऐसे बहुत सारे गुण मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर से हानिकारक से हानिकारक बीमारी को भी बाहर निकालने में हमारी मदद करते हैं। और आपको रोग सता रहे हैं तो आप गिलोय का सेवन कर सकते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल में गिलोय जूस बनाने की विधि, फायदेgiloy benefits  बताने वाले हैं।

सामग्री :-

  • 8 से 9 फीट लंबी गिलोय की बेल
  •  1 लीटर पानी

 

गिलोय जूस बनाने की विधि :-

  • सबसे पहले 8 से 9 फीट लंबी गिलोय की बेल ले ले।
  • गिलोय की बेल के ऊपर से उसकी छाल को निकाल ले।
  • गिलोय की बेल को अच्छी तरह से पीसकर इसका पेस्ट बना ले।
  • 1 लीटर पानी में गिलोय के पेस्ट को बहुत देर तक उबाल ले।
  • जब पानी ठंडा हो जाए तो उसको छान कर अलग कर ले।
  • अब आपका गिलोय का जूस तैयार है पीने के लिए।

 

गिलोय जूस के फायदे – giloy benefits

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई – आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हैं। आप बार-बार बीमार पड़ रहे हैं तो आपको गिलोय के जूस का सेवन करना चाहिए जिससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाएगी।

खून साफ करें –  गिलोय में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं जो हमारे खून को साफ करने में हमारी मदद करते हैं और हमारे शरीर में मौजूद दूषित खून को बाहर निकालते हैं जब हमारे शरीर का खून गंदा हो जाता है तो हमें कई गंभीर रोग हो सकते हैं यहां तक कि कैंसर भी हो सकता हैं।

पिंपल्स को ठीक करें –  गिलोय में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण त्वचा में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को मारने का काम करता है आपको हर रोज एक गिलास गिलोय के जूस का सेवन करना है जिससे आपकी त्वचा से पिंपल पूरी तरह से साफ हो जाएंगे।

Read Also :  Healthy Eating Tips : खाना खाते वक्त रखें इन बातों का ध्यान जिंदगी भर नहीं होंगे बीमार

हृदय को स्वस्थ रखें –  आजकल ह्रदय रोग होना एक आम बात हो गया है तो अगर आपको भी ह्रदय रोग परेशान कर रहा है तो आपको गिलोय के जूस का सेवन जरूर करना चाहिए। गिलोय के जूस में पीसी हुई काली मिर्च मिलाकर पीते हैं तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते हैं गिलोय का जूस हार्ट अटैक और कार्डियक अटैक जैसी बीमारियों को दूर रखता हैं।

पेट की समस्या –  अगर आपको एंठन, पेट में दर्द, पेचिस, दस्त, कब्ज, पेट फूलना बीमारियां है तो आपको गिलोय के जूस का सेवन करना चाहिए गिलोय का जूस पेट की समस्या को चुटकियों में दूर करता है अगर गिलोय के जूस में एक नींबू और काला नमक मिला दिया जाए तो आपको इससे और भी ज्यादा लाभ होगा।

महिला के स्तन में दूध की वृद्धि –  गिलोय का जूस स्तनपान कराने वाली महिला को दिया जाए तो उस महिला के स्तन में दूध की वृद्धि कई गुना बढ़ जाएगी। इसका दूसरा फायदा यह भी है कि अगर स्तनपान कराने वाली महिला गिलोय के जूस का सेवन करती है तो यह बच्चे के लिए भी बहुत लाभदायक होता है इससे बच्चे की इम्युनिटी बढ़ेगी।

चक्कर आना –  कई लोगों को चक्कर आने की समस्या होती है और वह लोग सर्दियों के मौसम में भी पसीने से भीग जाते हैं तो अगर आप गिलोय जूस का सेवन करते हैं तो आप इस समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं। गिलोय का जूस शरीर में ठंडक पहुंचाता हैं।

 कब्ज के चलते हैं पेट दर्द से राहत –  गिलोय का जूस कब्ज के चलते पेट में होने वाले दर्द से राहत दिलाता हैं। अगर आप आधे गिलास गिलोय के जूस में एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में तीन बार सेवन करते हैं तो आपको जल्दी ही इस समस्या से राहत मिल जाएगी।

कमजोरी दूर करें –  अगर आप गिलोय के जूस में शहद और काली मिर्च का पाउडर  मिलाकर इसका सेवन करते हैं तो आपको कमजोरी से राहत मिलती है अगर आपको पहले से कोई बीमारी सता रही है जिसके चलते आपको कमजोरी हो गई है तब आप गिलोय के जूस से उस कमजोरी को दूर कर सकते हैं।

Read Also :  रात को यह 10 चीजें नहीं खानी चाहिए

कफ की समस्या – अगर आप गिलोय के जूस को घी के साथ मिलाकर पीते हैं वह भी दिन में तीन – चार बार तो आपको 2 दिन में ही इसका फायदा देखने को मिलेगा। तो आपको कफ की समस्या को दूर करने के लिए गिलोय जूस का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

मोटापा घटाएं –  आप बढ़ते वजन से परेशान हैं तो आपको गिलोय के जूस का सेवन करना चाहिए। गिलोय का जूस हमारे शरीर की मांसपेशियों के बीच में फैट को कम करता है और एक्स्ट्रा फैट कैलोरी को बाहर करता है साथ में हमारे शरीर को एनर्जी भी प्रदान करता है जिससे हमारा मोटापा तेजी से घटने लगता है जिसमें बहुत सारे तत्व मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर से मोटापे को बाहर करने में अहम भूमिका निभाते हैं।

खुजली –  जब आपको खुजली की समस्या होती है तो आपको समझ लेना चाहिए कि आपका खून साफ नहीं है इसलिए आपको गिलोय के जूस का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि इसमें बहुत सारे ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो हमारे खून को साफ करते हैं।

पीलिया –  अगर आप पीलिया रोगी को दिन में तीन – चार बार गिलोय जूस का सेवन करवाते हैं तो रोगी पीलिया से जल्दी राहत पा सकता है और साथ में पीलिया को जड़ से खत्म करते हैं। तो यह आज के हमारे गिलोय जूस के फायदेgiloy benefits .

सावधानियां :-

  • अगर आपके शरीर में शुगर की कमी है आपको गिलोय के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए।
  •  गर्भावस्था के दौरान गिलोय के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • गिलोय का जूस इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

Leave a Reply